अध्याय 12 बाजार के अन्य स्वरूप

ARTS, अर्थशास्त्र, CLASS 12, COMMERCE

अध्याय 12 बाजार के अन्य स्वरूप

प्रश्न 1 एकाधिकारी बाजार किस प्रतियोगिता के विपरीत होता है?
उत्तर एकाधिकारी बाजार पूर्ण प्रतियोगिता के विपरीत होता है।
प्रश्न 2 एकाधिकारी बाजार का अध्ययन किस बाजार की कार्य प्रणाली को समझने में सहायक होता है?
उत्तर एकाधिकारी बाजार का अध्ययन अपूर्ण बाजार की कार्यप्रणाली को समझने में सहयोगी होता है।
प्रश्न 3 एकाधिकार किसे कहते हैं?
उत्तर एकाधिकार बाजार की वह स्थिति है जब उत्पादक ऐसी वस्तु का उत्पादन करता है, जिसकी कोई निकटतम प्रतिस्थापक वस्तु उपलब्ध नहीं होती है, केवल एक विक्रेता अथवा उत्पादक होता है।
प्रश्न 4 स्टोनियर एवं हेग के अनुसार एकाधिकार की परिभाषा बताइए।
उत्तर स्टोनियर एवं हेग के अनुसार एकाधिकार वह उत्पादक होता है जो किसी वस्तु की पूर्ति पर पूर्ण अधिकार रखता है तथा उस वस्तु की कोई निकटतम स्थानापन्न वस्तु नहीं होती है।
प्रश्न 5 प्रोफेसर लर्नर के अनुसार एकाधिकार को परिभाषित कीजिए।
उत्तर प्रोफेसर लर्नर के अनुसार एकाधिकार उस विक्रेता को कहते हैं जिसकी वस्तु की मांग का वक्र गिरता हुआ होता है अर्थात उसकी पूर्ति का विक्रय वक्र लोचहीन होता है।


प्रश्न 6 प्रोफेसर चेंबरलिन के अनुसार एकाधिकार को परिभाषित कीजिए।
उत्तर प्रोफेसर चेंबरलिन के अनुसार एकाधिकारी वह होता है जो सामान्यतः किसी वस्तु की पूर्ति पर पूर्ण नियंत्रण रखता है और वह अधिकांश मामलों में पूर्ति का संचालन न कर मूल्य का संचालन करता है।
प्रश्न 7 एकाधिकार की विशेषताएं बताइए
उत्तर एकाधिकार की विशेषताएं
1 एकाधिकार बाजार में केवल एक विक्रेता, एक उत्पादक अथवा एक पूर्तिकर्ता होता है।
2 ऐसी वस्तु का उत्पादन किया जाता है, जिसकी कोई निकट स्थानापन्न वस्तु नहीं होती है।
3 मांग की प्रतिलोच बहुत कम होती है।
4 एकाधिकार फर्म स्वयं उद्योग होती हैं अर्थात उद्योग और फर्म में कोई अंतर नहीं होता है।
5 वस्तु का मांग वक्र नीचे दाएं झुकाव वाला होता है।
6 एकाधिकारी का MR वक्र AR वक्र के नीचे स्थित होता है।
7 एकाधिकारी कीमत और पूर्ति मात्रा दोनों में से कोई एक को निर्धारित कर सकता है।
8 एकाधिकारी का उद्देश्य अधिकतम लाभ कमाना होता है।
9 उद्योग में प्रवेश के लिए बड़ी रुकावटें अथवा अवरोध होते हैं।
प्रश्न 8 उपभोक्ता वस्तु की पहचान कैसे करता है ?
उत्तर उपभोक्ता वस्तु की उसके ब्रांड से पहचान करता है।
प्रश्न 9 एकाधिकार में कौन-कौन से अवरोध आते हैं?
उत्तर अत्यधिक पूंजी, पेटेंट, लाइसेंस, सरकार द्वारा डिग्री की बाध्यता आदि अवरोध एकाधिकार को बनाए रखते हैं।
प्रश्न 10 एकाधिकार में नई फर्मों के प्रवेश पर रुकावट के महत्वपूर्ण कारक बताइए।
उत्तर एकाधिकार में नई फर्मों के प्रवेश पर रुकावटों के लिए तीन महत्वपूर्ण कारक उत्तरदायी होते हैं
1कच्चा माल जो कि उत्पादन प्रक्रिया के लिए आवश्यक है, पर उत्पादक का पूर्ण नियंत्रण होता है।
2 सरकार द्वारा एक फर्म को अपनी वस्तु बनाने और विक्रय करने का पेटेंट अधिकार देना।
3 एक फर्म पैमाने की बढ़ती मितव्ययिताओ के कारण समस्त उत्पादन दूसरी फर्मों की तुलना में कम लागत पर करती हैं।


प्रश्न 11विशुद्ध एकाधिकार बाजार क्या होता है?
उत्तर विशुद्ध एकाधिकार बाजार में फर्म ऐसी वस्तु का उत्पादन करती है जिसकी कोई स्थानापन्न वस्तु नहीं होती और दूसरी वस्तुओं के साथ स्थानापन्न मांग की प्रतिलोच शून्य होती हैं।
प्रश्न 12 विशुद्ध एकाधिकार बाजार में औसत आगम वक्र का आकार कैसा होता है ?
उत्तर विशुद्ध एकाधिकार बाजार में औसत वक्र का आकार आयताकार अतिपरवलय होता है।
प्रश्न 13 भारत में एकाधिकार के कुछ उदाहरण बताइए।
उत्तर भारतीय रेलवे, राज्य विद्युत निगम, सरकार का नाभिकीय उत्पादन पर अधिकार इत्यादि भारत में एकाधिकार के उदाहरण हैं।
प्रश्न 14 एकाधिकार में मांग वक्र का ढाल कैसा होता है ?
उत्तर एकाधिकार में मांग वक्र का ढाल ऋणात्मक होता है।
प्रश्न 15 एकाधिकारी को वस्तु की अधिक इकाई विक्रय करने के लिए क्या करना पड़ता है?
उत्तर एकाधिकारी को वस्तु की अधिक इकाई का विक्रय करने के लिए वस्तु की कीमत को कम करना पड़ता है।


प्रश्न 16 एकाधिकार में औसत आगम वक्र एवं सीमांत आगम वक्र कहां से प्रारंभ होते हैं ?
उत्तर एकाधिकार में औसत आगम वक्र एवं सीमांत आगम वक्र लंबवत अक्ष पर एक ही बिंदु पर प्रारंभ होते हैं।
प्रश्न 17 अल्पकाल में एकाधिकारी को प्राप्त होने वाले लाभ की संभावना बताइए।
उत्तर अल्पकाल में एकाधिकारी को सामान्य लाभ, अतिरिक्त लाभ अथवा हानि भी हो सकती है।
प्रश्न 18 दीर्घकाल में एकाधिकारी को किस प्रकार का लाभ प्राप्त होता है ?
उत्तर दीर्घकाल में एकाधिकारी को केवल अतिरिक्त लाभ ही प्राप्त होता है।
प्रश्न 19 एकाधिकारी कीमत विभेद क्यों करता है ?
उत्तर एकाधिकारी अपने लाभ में वृद्धि करने के लिए कीमत विभेद करता है।
प्रश्न 20 कीमत विभेद किसे कहते हैं ?
उत्तर प्रोफेसर स्टिगलर के अनुसार ‘कीमत विभेदीकरण का अर्थ है कि तकनीकी दृष्टि से समरूप पदार्थों को इतनी भिन्न-भिन्न कीमतों पर बेचना जो उनकी सीमांत लागतो के अनुपात में कहीं अधिक है।


प्रश्न 21श्रीमती जॉन रॉबिंसन के द्वारा लिखित पुस्तक का नाम बताइए।
उत्तर “अपूर्ण प्रतियोगिता का अर्थशास्त्र”।
प्रश्न 22 प्रोफेसर ई एच चेंबरलिन द्वारा लिखित पुस्तक का नाम बताइए
उत्तर “एकाधिकारिक प्रतियोगिता का सिद्धांत”।
प्रश्न 23 अपूर्ण प्रतियोगिता में किन बाजार संरचनाओं का अध्ययन किया जाता है ?
उत्तर अपूर्ण प्रतियोगिता में एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता, अल्पाधिकार एवं द्वयाधिकार बाजारों की संरचना का अध्ययन किया जाता है।
प्रश्न 24 प्रोफ़ेसर चेंबरलिन के अनुसार एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता की परिभाषा लिखिए।
उत्तर प्रोफ़ेसर चेंबरलिन के अनुसार एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता की धारणा अर्थशास्त्र की परंपरागत विचारधारा है और व्यक्तिगत कीमतों की या तो प्रतियोगिता के अंतर्गत या एकाधिकार के अंतर्गत व्याख्या की जाती हैं। परंतु इसके विपरीत मेरे विचार में अधिकांश आर्थिक अवस्थाएं प्रतियोगिता और एकाधिकार का मिश्रण होती है।
प्रश्न 25 एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता की विशेषताएं लिखिए।
उत्तर एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता में निम्नलिखित विशेषताएं पाई जाती हैं –
1फर्मो की संख्या अधिक होती हैं।
2 सभी फर्मे स्वतंत्र रूप से कार्य करती हैं।
3 पूंजी की आवश्यकता भी कम होती हैं।
4 उत्पादन तरल तकनीक सरल होती हैं।
5 पैमाने की बचत सीमित होती हैं।
6 खुदरा बाजार और सेवा क्षेत्र में यह बाजार संरचना अधिकाधिक देखने को मिलती हैं।
7 विभेदीकृत वस्तुएं पाई जाती हैं।
8 फर्मो का प्रवेश व बहिर्गमन स्वतंत्र होता है।
9 बाजार में कई फर्मों को समूह कहते हैं।
10 विक्रय लागत में भिन्नताएं पाई जाती हैं।
11 गैर कीमत प्रतियोगिता पाई जाती हैं।


प्रश्न 26 विभेदीकृत वस्तुएं क्या होती हैं ?
उत्तर ऐसी वस्तुएं जिनका न तो पूर्ण प्रतिस्थापन हो सकता है ना हीं एकाधिकार बाजार की भांति ऐसी वस्तु उत्पादित होती जिनकी कोई स्थानापन्न वस्तुएं नहीं हो विभेदीकृत वस्तुएं कहलाती है।
प्रश्न 27 एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता में वस्तुओं को विभेदीकृत किस प्रकार किया जाता है ?
उत्तर एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता में वस्तुओं को निम्न कारणों से विभेदीकृत किया जाता है –
1 वस्तु के रंग, आकार, गुणवत्ता, पैकिंग आदि तरीकों से वस्तुओं में विभिन्नता लाई जाती है।
2 पेटेंट अधिकार एवं ट्रेडमार्क द्वारा भी वस्तु विभेद किया जाता है।
3 विज्ञापन एवं प्रचार के माध्यम से वस्तुओं में अंतर किया जा सकता है।
4 कार्यकौशल और साख सुविधाओं के अंतर के द्वारा भी वस्तुओं में विभेदीकरण किया जाता है।
प्रश्न 28 एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता में किसी कीमत पर वस्तुओं की मांग किस पर निर्भर करती है ?
उत्तर एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता में किसी कीमत पर वस्तु की मांग मात्रा, वस्तु की स्थानापन्न वस्तुओं की कीमत, विज्ञापन, रुचि, फैशन और उपभोक्ता की आय पर निर्भर करती हैं।
प्रश्न 29 एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता मे औसत एवं सीमांत वक्रो का ढाल कैसा होता है ?
उत्तर एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता में औसत एवं सीमांत वक्रों का ढाल एकाधिकार की तुलना में कम प्रपाती होता है।
प्रश्न 30 एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता में फर्म के औसत आगम वक्र की लोच किन घटकों पर निर्भर करती हैं ?
उत्तर एकाधिकारात्मक प्रतियोगिता में फर्म के औसत आगम वक्र की लोच निम्नलिखित घटकों पर निर्भर करती है – फर्मो के मध्य वस्तु विभेदीकरण, उपभोक्ता की वरीयताएं, समूह में फर्मो की संख्या इत्यादि।


प्रश्न 31अल्पाधिकार किसे कहते हैं ?
उत्तर अल्पाधिकार बाजार संरचना का वह रूप है जिसमें विक्रेताओं की संख्या थोड़ी होती हैं।
प्रश्न 32 अल्पाधिकार में किस प्रकार की वस्तुओं का उत्पादन होता है ?
उत्तर अल्पाधिकार में समरूप एवं विभेदीकृत दोनों प्रकार की वस्तुओं का उत्पादन किया जाता है।
प्रश्न 33 द्वयाधिकार किसे कहा जाता है ?
उत्तर यदि एक वस्तु के केवल दो ही विक्रेता होते हैं तो उसे द्वयाधिकार कहा जाता है।
प्रश्न 34 अल्पाधिकार का सबसे सरल रूप कौन सा होता है ?
उत्तर द्वयाधिकार अल्पाधिकार का सबसे सरल रूप होता है।
प्रश्न 35 भारत में अल्पाधिकार बाजार के उदाहरण बताइए।
उत्तर भारत में वाहन, सीमेंट, स्टील एवं एल्युमिनियम उद्योग अल्पाधिकार की श्रेणी में आते हैं।



प्रश्न 36 पूर्ण अल्पाधिकार किसे कहते हैं ?
उत्तर जिस अल्पाधिकार बाजार में फर्म समरूप वस्तुओं का उत्पादन करती हैं, उसे पूर्ण अल्पाधिकार कहते हैं।
प्रश्न 37 अपूर्ण अल्पाधिकार किसे कहते हैं ?
उत्तर जिस अल्पाधिकार बाजार में फर्म विभेदीकृत वस्तुओं का उत्पादन करती हैं, उसे अपूर्ण अल्पाधिकार कहते हैं।
प्रश्न 38 कपट संधायी क्या होती है ?
उत्तर जब फर्मे मिलकर कीमत एवं उत्पादन का निर्धारण करती हैं तो इसे कपट संधायी कहते हैं।
प्रश्न 39 गैर कपट संधायी क्या है ?
उत्तर जब फर्मों के मध्य किसी प्रकार का भी समझोता नहीं होता तो उसे गैर कपट संधायी कहते हैं।
प्रश्न 40 खुला अल्पाधिकार किसे कहते हैं ?
उत्तर बाजार की वह स्थिति जब फर्मे उद्योग में प्रवेश कर सकती हैं, खुला अल्पाधिकार कहलाता है।


प्रश्न 41 बंद अल्पाधिकार किसे कहते हैं ?
उत्तर जब उद्योग में फर्मो के प्रवेश करने की स्वतंत्रता नहीं होती, तो ऐसी स्थिति को बंद अल्पाधिकार कहते हैं।
प्रश्न 42 आंशिक कीमत नेतृत्व क्या होता है ?
उत्तर अपूर्ण प्रतियोगिता में उद्योग में कीमत निर्धारण एक बड़ी फर्म द्वारा किया जाता है, जिसे कीमत नेतृत्व करना कहते हैं।
प्रश्न 43 पूर्ण कीमत नेतृत्व से आप क्या समझते हैं ?
उत्तर पूर्ण कीमत नेतृत्व के अंतर्गत सभी फर्मो में परस्पर निर्भरता रहती हैं फर्मे एक दूसरे की कीमत उत्पादन नीति से प्रभावित होती हैं।