एकाधिकारी के मांग वक्र की लोच

अर्थशास्त्र

एकाधिकारी के मांग वक्र की लोच

एकाधिकार के मांग वक्र की लोच एक से कम (e<1)होती हैं यह भ्रांति है यह सत्य नहीं है क्योंकि MR=MC
एकाधिकारी मांग के बारे में भ्रांति यह है कि एकाधिकारी के उत्पादन बिंदु पर मांग बेलोचदार (e<1) होती है यह सही नहीं है।
जब e<1 हो तो MR<0 होगी इसलिए MC<0 होगी। जो संभव नहीं है।
जब e=0 हो तो MR=0 होगी इसलिए MC=0 होगी। जो संभव नहीं है।
इसलिए एकाधिकारी वही उत्पादन करेगा जहां मांग की लोच एक से अधिक हो।
इसलिए एक अधिकारी की मांग की लोच e>1होती हैं।