Hadoti Praja Mandal हाड़ौती प्रजामंडल

Uncategorized

Hadoti Praja Mandalहाड़ौती प्रजामंडल

Hadoti Praja Mandal हाड़ौती प्रजामंडल

इसके संस्थापक पंडित नयनूराम शर्मा एवं प्रभु लाल विजय हैं।

इसकी स्थापना 1934 में हुई ।

लेकिन यह प्रजामंडल राजनीतिक रूप से अधिक सक्रिय नहीं हो पाया ।
अतः पंडित नयनूराम शर्मा (कोटा में राष्ट्रीयता का जनक) तथा अभिन्न हरि (हाड़ौती सेवा संघ का संस्थापक)के प्रयासों से 1939 ईस्वी में “कोटा प्रजामंडल” की स्थापना की गई ।
1941 ईस्वी में पंडित नयनू राम शर्मा की हत्या के पश्चात इसका नेतृत्व के अभिन्न हरि के हाथों में आ गया।




 

Hadoti Praja Mandal:

Its founders are Pandit Nayanuram Sharma and Prabhu Lal Vijay.
It was established in 1934.
But this planet could not become more politically active.
Hence, the efforts of Pandit Nayanuram Sharma (father of nationality in Kota) and Anabhag Hari (founder of Hadauti Seva Sangh) established the “Kota Prajamandal” in 1939 AD.
After the assassination of Pandit Nayanu Ram Sharma in 1941 AD, it came into the hands of Hari, an integral part of his leadership.



 

 

 

Leave a Reply